250 मीटर क्षेत्रफल वाला दुनिया का सबसे छोटा देश ?

दुनिया का सबसे छोटा देश

क्या आपको पता है कि Duniya ka sabse chota desh कौन सा है सोच रहे होंगे कि वेटिकन सिटी किंतु यह सत्य नहीं है उससे भी छोटा देश इस दुनिया में है लेकिन इसे अभी एक देश की मान्यता नहीं मिली है| इसका नाम सीलैंड है तथा यह माइक्रोनेशन है|

इस फोर्ट की बर्बर अवस्था को देखकर इसे रफ फोर्ट भी कहा जाता है| उत्तरी समुद्र में इंग्लैंड के सफ़ोल्क से 10 किलोमीटर समंदर में बसा हुआ है| माइक्रोनेशन वह देश होते हैं जिनकी आबादी बहुत कम तथा क्षेत्रफल भी बहुत ज्यादा कम होता है और इनके छोटे आकार के कारण देश के रूप में मान्यता नहीं मिलती है|
Duniya ka sabse chota desh
Duniya ka sabse chota desh - ( Sealand )

सीलैंड का कुल क्षेत्रफल 250 मीटर ( .25 किलोमीटर ) है, 2019 में इसकी जनसंख्या केवल 27 थी तथा यह समुंद्र के बीच में एक किला है तथा इसकी राजधानी एचएम फोर्ट रफ है|

इसे द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान ब्रिटिश सेनाओं द्वारा बनाया गया था तथा इसे युद्ध के दौरान एक गन प्लेटफार्म के रूप में इस्तेमाल किया गया था| विश्व युद्ध खत्म होने के बाद ब्रिटिशर्स द्वारा इसे खाली कर दिया गया था|

map of sealand
Map of Sealand
सन 1967 में रॉय बेट्स नाम के एक मेजर ने इस पर अपना कब्जा कर लिया तथा ब्रिटेन से अलग कर इसे एक स्वतंत्र राज्य तथा खुद को यहां का राजा घोषित कर दिया|

सीलैंड की अपनी खुद की पोस्टल स्टैंप, ऑफिशियल न्यूज़पेपर, करेंसी सिक्के है| लोगों को इसके बारे में तब पता चला जब अक्टूबर 2012 में राय बेट्स की मृत्यु के बाद उनके बड़े बेटे माइकल बेट्स ने खुद को सीलैंड का राजा घोषित कर दिया| जब लोगों को इसके बारे में पता चला तो बहुत सारा पैसा इसके लिए डोनेट किया तथा आज बहुत सारे लोग सीलैंड को देखने के लिए जाते हैं| प्रिंसिपैलिटी ऑफ सीलैंड के नाम से इस माइक्रोनेशन सीलैंड का अपना खुद का एक फेसबुक पेज है तथा इसे एक लाख से ज्यादा लोगों ने लाइक किया है|

 सीलैंड की दुर्घटना


23 जून 2006 को सीलैंड में शॉर्ट सर्किट होने की वजह से यहां भीषण आग लगी थी तथा ब्रिटिश की रॉयल एयर फोर्स के एक बचाव हेलीकॉप्टर ने यहां के एक आदमी को घायल अवस्था में हॉस्पिटल पहुंचाया था|

Related post:-

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां